जुलाई 31, 2016

दिनदहाड़े एक शख्स को मारी गोली .......


गंभीर स्थिति में जख्मी एक निजी अस्पताल में भर्ती ....... 
इलाके में सनसनी ....... 
पुलिस पर भारी पर रहे अपराधी ....... 

मुकेश कुमार सिंह की रिपोर्ट----- 


आज दिनदहाड़े सुशासन में बेख़ौफ़ अपराधियों ने सहरसा सदर थाना के सरबा ढ़ाला के समीप सलखुआ निवासी राजदीप मेहता को नजदीक से तीन गोली मारी और हवा में हथियार लहराते हुए वहाँ से निकल गए ।जख्मी राजदीप को तत्काल स्थानीय लोगों ने घटनास्थल पर से उठाया और शहर के निजी सूर्या अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसकी स्थिति गंभीर बनी हुयी है । राजदीप ने पुलिस को दिए अपने बयान में बताया है की वह बाईक से अपने गाँव से सहरसा आ रहा था की सरबा ढ़ाला के समीप उसके इलाके का ही हरेराम यादव जो एक बाईक पर सवार था, ने उसपर तीन गोलियां दागी और वहाँ से फरार हो गया ।
 हरेराम से उसकी पुरानी रंजिश रही है । पुलिस काण्ड अंकित कर अनुसंधान शुरू कर चुकी है लेकिन सहरसा पुलिस अपनी सुस्ती और बिगडैल कार्यशैली के लिए विख्यात है ।ऐसे में यह शंका जताई जा रही है की अपराधी का नाम सपष्ट होने के बाद भी पुलिस उसे गिरफ्तार करने में आसानी से कामयाब नहीं हो पाएगी ।
वैसे दिनदहाड़े घटी इस घटना ने यह पूरी तरह से साफ़ कर दिया है की सहरसा पुलिस का अपराधियों को कहीं से भी कोई खौफ नहीं है ।सहरसा पुलिस क्रिजदार वर्दी में बस फैशन पैरेड करते नजर आती है ।

2 टिप्‍पणियां:

  1. ज्ञानेश ठाकुरजुलाई 31, 2016 8:19 pm

    अब इसे संयोग कहे या र्दुभाग्य क्योकि घटना से 1 घँटा र्पुव ही मै राजदेव महतो को सहरसा शहर के रिफुयजी चौक पर देखा,
    घटना की खबर सुनते ही मैँ सन्न रह गया ।
    अब तो एक ही दुआ है भगवान जल्द से जल्द स्वस्थ कर देँ ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. sare mre police wale ko saharsa me hi bharti kar diya hai kya

    उत्तर देंहटाएं


THANKS FOR YOURS COMMENTS.

*अपनी बात*

अपनी बात---थोड़ी भावनाओं की तासीर,थोड़ी दिल की रजामंदी और थोड़ी जिस्मानी धधक वाली मुहब्बत कई शाख पर बैठती है ।लेकिन रूहानी मुहब्बत ना केवल एक जगह काबिज और कायम रहती है बल्कि ताउम्र उसी इक शख्सियत के संग कुलाचें भरती है ।