सितंबर 04, 2016

🌅 शुभ प्रभातम् 🌅 🌺 आज का पंचांग 🌺

🌅 शुभ प्रभातम् 🌅
🌺 आज का पंचांग 🌺
दिनांक-   04 सितम्बर 2016
दिन - रविवार
संवत्सर नाम - सौम्य
युगाब्दः- 5118
विक्रम संवत- 2073
शक संवत -1938
अयन - दक्षिणायन
गोल - उत्तर
ऋतु - वर्षा
मास - भाद्रपद
पक्ष -  शुक्ल पक्ष
तिथि-  तृतीया
नक्षत्र - हस्त
योग -  शुभ
करण- गर
दिशा शूल-  पश्चिम दिशा में
🌺💥 हरितालिका व्रत{तीज}, चतुर्थीचन्द्रपूजन{चौरचन}, चन्द्रास्त{ रात08/07}💥🌺
🌹🌻सांस्कृतिक कोश🌻🌹
     गंगा पुत्र होने के कारण गणेश जी को गांगेय कहा जाता है ।
🌚  राहुकाल- सायं 04:30 से 06:00 बजे तक ।
     🌹🌺सुविचार 🌺🌹
       तात्कालिक प्रतिक्रिया की परवाह न करें ।दीर्घकालिक निष्पत्ति पर अधिक ध्यान दें ।
            🙏सर्वे भवन्तु सुखिन:🙏

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें


THANKS FOR YOURS COMMENTS.

*अपनी बात*

अपनी बात---थोड़ी भावनाओं की तासीर,थोड़ी दिल की रजामंदी और थोड़ी जिस्मानी धधक वाली मुहब्बत कई शाख पर बैठती है ।लेकिन रूहानी मुहब्बत ना केवल एक जगह काबिज और कायम रहती है बल्कि ताउम्र उसी इक शख्सियत के संग कुलाचें भरती है ।